यादगार ट्रिप डेस्टिनेंशस बम्बई, शिरड़ी और गोवा

दोस्तों के साथ 10 दिन का था ट्रिप, कुल 06 दोस्त थे।

मेंबर्स 

वर्षा महावर ,रूचि ,यश ,जयशेर,हिमांशु सिंदेल ,जानवी 

रखें ध्यान

न ज्यादा गर्मी और न ज्यादा सर्दी वाले मौसम में जाए। गोवा सितम्बर से मार्च महीने के बीच में ही जाए। कॉटन के हल्के कपड़ें और सनस्क्रीन जरूर साथ रखें। कीमती वस्तुएं लेकर बीच पर न जाएं। समुद्र में ज्यादा आगे तक न जाएं,समुद्र में ऊँची ऊँची उठती हुई लहरों को देखनेे के बाद अनुभव् किया की  यह लहरें कभी खतरनाक भी हो सकती है।

 

क्या-क्या देखा

प्रकृति के सुंदर दृश्य और मनोरम स्थल मन को मोहने वाले थे। बम्बई ट्रेन से उतरने के बाद  टैक्सी से शिरड़ी गए। मंदिर में सांई पालकी और द्वारकामाई के दर्शन किए। इसके बाद अगले दिन लगभग किलोमीटर की दूरी पर स्थित हम शनिशिंगना पूर धाम के दर्शन को पहुंचें। फिर ट्रेन से ही  गोवा गए। वहाँ पहुंचकर काफी अच्छा लगा। गोवा का सुहाना मौसम था बादल छाए हुये थे जहां हम कलगुंट बीच, सिन्क्वेरियम, अजूंना, मीरमार, दौना पौला, चापोरा फोर्ट ,केंडोलिम बीच {गोवा का स्वर्ग }गेटर और प्रसिद्ध बागा बीच पर पहुंचें। जहां पैरासैलिंग, जैटी सहित कई चीजे  रोमांच भरी थी। दस दिन का समय पता नही कैसे निकल गया समझ ही नही आया, मन तो बहुत था की कुछ दिन और वहाँ मस्ती की जाए |लेकिन मम्मी पापा और सभी परिवार वालो की यादों ने हमे आने को मजबूर कर दिया |  दोस्तों  के साथ यह ट्रिप बहुत मस्ती और यादगार रही। और हम सब से यभी कहना चाहेंगे की जीवन में एक बार गोवा जरुर जाए वहां का अहसास कुछ अलग ही मजा देता हैं |

वर्षा महावर

Leave a Comment