एचडीएफसी का मुनाफा 54 फीसदी बढक़र 2190 करोड़ रुपये

मुंबई। गिरवी रखकर कर्ज देनेवाले ऋणदाता एचडीएफसी के मुनाफे में वित्त वर्ष 2018-19 की पहली तिमाही में 54 फीसदी की जोरदार तेजी दर्ज की गई है। कंपनी ने सोमवार को यह जानकारी दी।

एचडीएफसी के मुताबिक, समीक्षाधीन अवधि में उसका मुनाफा बढक़र 2,190 करोड़ रुपये हो गया, जोकि इसके पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 1,424 करोड़ रुपये था। 

गैर-बैकिंग वित्तीय कंपनी की ब्याज आय में चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में साल-दर-साल आधार पर 20 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई और यह 2,890 करोड़ रुपये रही, जबकि वित्त वर्ष 2017-18 की पहली तिमाही में यह 2,412 करोड़ रुपये थी।

कंपनी ने एक बयान में कहा, ‘‘30 जून को खत्म तिमाही में कॉर्पोरेशन को एचडीएफसी बैंक से 511 करोड़ रुपये का लाभांश हासिल हुआ, जबकि पिछले वित्त वर्ष एचडीएफसी बैंक से दूसरी तिमाही में लाभांश हासिल हुआ था।’’

नेशनल हाउसिंग बैंक (एनएचबी) के मानदंडों के तहत, तिमाही नतीजों के मुताबिक एचडीएफसी का सकल गैर-निष्पादित ऋण (फंसे हुए कर्जे) 30 जून को समाप्त तिमाही में 4,409 करोड़ रुपये या कर्ज पोर्टफोलियो का 1.18 फीसदी रहा। 

बयान में कहा गया है, ‘‘कंपनी के गैर-निष्पादित कर्ज व्यक्तिगत पोर्टफोलियों में कुल कर्ज का 0.66 फीसदी तथा गैर-व्यक्तिगत पोर्टफोलियों में कुल कर्ज का 2.32 फीसदी रहा।’

Leave a Comment