बिजली तारों से निकली चिंगारियां, रातानाडा सब्जी मंडी में देर रात लगी भीषण आग

जोधपुर। रातानाडा सब्जी मंडी में रविवार रात पौने दस बजे के आसपास शार्ट सर्किट से भीषण आग लग गई। आग सब्जी में तीन दुकानें व दो कैबिन के अलावा काफी सामान जलकर नष्ट हो गया। आग से करीब आठ लाख के नुकसान का अनुमान है। 

शास्त्रीनगर व नागौरी गेट से पहुंची पांच दमकलों ने आग पर काबू पाया। आग की जानकारी डिस्कॉम को देने के साथ ही क्षेत्र की बिजली गुल करवा दी गई। विद्युत से चिंगारियां निकलने से एकबारगी अफरातफरी मच गई। हालांकि किसी प्रकार की जनहानि की जानकारी देर रात तक नहीं मिल पाई। 

एएफओ सुरेंद्र सिंह भाटी ने बताया कि रातानाडा सब्जी मंडी ने रविवार की रात पौने दस बजे के आस पास आग लगने की सूचना पर एक गाड़ी को वहां भेजा गया। मगर आग की तीव्रता को देखते हुए बाद में शास्त्रीनगर फायरस्टेशन प्रभारी हेमराज शर्मा, वरिष्ठ फायरमैन प्रशांत सिंह के अलावा प्रमोद सोनगरा, अभिजीत, मुकेश, राज खां, गेनाराम व शैतानसिंह को भी अन्य दमकलों के साथ में भेजा गया। 

बताया गया कि आग शार्ट सर्किट से लगी थी। सब्जी मंडी में बनी दुकानों व ठेलों के अलावा केबिनों के ऊपर से हाइपर विद्युत लाइन गुजर रही है जिसमें शार्ट सर्किट से गिरी चिंगारी से यहां पर आग लग गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया। 

आग से ठेले भी चपेट में आ गए। कुछ लोगों ने हिम्मत जुटाकर आग लगे ठेलों को बाहर निकाला और नुकसान से बचने का प्रयास किया, मगर ठेले पूरी तरह आग से जलकर खाक में बदल गए। बताया गया कि जगदीश पुत्र प्रताप, शैतानसिंह पुत्र कानसिंह और गणपत पुत्र प्रताप के की दुकानें जली है। जबकि अब्दूल गनी और रफीक का कच्चे पक्के के बिन जल गए। यहां पर रखा सारा साजो सामान जलकर नष्ट हो गया। 

दो अन्य स्थानों पर लगी आग

शहर के बासनी में सुशील उद्योग व मधुबन हाउसिंग बोर्ड में भी रविवार को दिन में आग लगी। सुशील उद्योग में आग लगने पर शास्त्रीनगर व बासनी से गाड़ी भेजी गई। आग से ज्यादा नुकसान नहीं हुआ। इसी प्रकार मधुबन हाऊसिंग बोर्ड में बिजली ट्रांसफार्मर में आग लगने से अफरातफरी मच गई।

Leave a Comment