पिता को 8 बार, मां को 7 बार चाकुओं से गोदा, बहन को भी मार डाला: बेटे की दरिंदगी

नई दिल्ली। दिल्ली ट्रिपल मर्डर केस का खुलासा हो गया है। मां- बाप और बहन को मारने वाला और कोई नहीं बेटा ही निकला। वह पिता-मां और बहन की डांट से इस कदर आहत हुआ कि उसने तीनों को मौत के घाट उतार दिया। 

साउथ दिल्ली के किशनगढ़ की इस खौफनाक वारदात के बाद पुलिस का दावा है कि किशोर ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। इकबालिया बयान में उसने पुलिस को बताया है कि वह पढ़ाई के लिए बार-बार डांट खाने की वजह से परेशान था। पुलिस ने किशोर को  गिरफ्तार कर लिया। उसने बड़ी बेरहमी से चाकुओं से गोद मां-पिता और बहन की हत्या की है।

दिल्ली में हाल के दिनों में दिल दहलाने वाला यह दूसरा मामला सामने आया है। इससे पहले मॉडल डाउन में एक युवक ने अपने पिता की केवल इसलिए हत्या कर दी क्योंकि क्रिकेट के सट्टे में पैसा गंवाने के बाद उसने उसकी मदद नहीं की थी। पुलिस के मुताबिक ताजा मामले में आरोपी 19 साल के सूरज ने सबसे पहले अपने पिता को निशाना बनाया।

उसने  करीब रात के तीन बजे अपने पिता मिथलेश वर्मा (44) के सीने और पेट पर चाकू के आठ वार किए। पिता की हत्या के बाद वह दूसरे रूम में सो रही अपनी मां सिया (38) के पास पहुंचा और उसे सात बार चाकुओं से गोद डाला। दो हत्याएं करने के बाद उसने अपनी नाबालिग बहन के कमरे का रुख किया। उसने बहन पर चाकू से चार वार किए।

अपने परिवार के लोगों की हत्या के बाद सूरज उनकी लाश के पास ही 2 घंटे तक बैठा रहा, ताकि पुलिस को एक कहानी बताई जा सके। उसने सुबह करीब 5:30 बजे अपने एक पड़ोसी को इसी सूचना दी। उसने पड़ोसी को बताया कि दो चोरों ने उसके घर में घुसकर परिवार के लोगों की हत्या कर दी।

 

Leave a Comment