एमएलए आवास निरस्त होने के 17 दिन बाद भी खाली नहीं करने पर अब लगेगी 1 लाख रु. हर माह पेनल्टी

जयपुर @ जागरूक जनता।. विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी द्वारा 17 दिन पहले निरस्त किए गए 95 एमएलए के आवासों को अब भी खाली नहीं किया गया है। इसको लेकर  विधानसभा की हाउस कमेटी की बैठक में विरोध हुआ। अब खाली नहीं करने वाले विधायकों पर हर महीने 1 लाख रुपए की पेनल्टी लगेगी।

पहली बार जीते अमीन कागजी ने तो एमएलए आवास तोड़कर नई मंजिलें भी चढ़ा दी। अब उनको खाली करने के आदेश हैं। पूर्व विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल द्वारा विधानसभा भंग होने के बाद भी बीजेपी-कांग्रेस के 95 नए जीते एमएलए को आवास आवंटित कर दिए थे। लंबे विवाद के बाद नए अध्यक्ष जोशी ने निरस्त करने का निर्णय किया था। 19 फरवरी को इसका फैसला होने के बावजूद अभी तक एमएलए ने आवास खाली नहीं किए। न ही पीडब्लूडी ने विधानसभा को इसकी रिपोर्ट दी कि आवास खाली करने की क्या प्रगति है? 

 सदन में गूंजा था मामला  

 20 दिसंबर को मामले का खुलासा किया। लेकिन मेघवाल फिर भी नहीं रुके तथा 49 विधायकों को और आवास आवंटित कर दिए। इसके बाद 15वीं विधानसभा के पहले सत्र में ही विधायक हनुमान बेनीवाल ने सदन में मामले उठाते हुए मेघवाल पर आवास आवंटन में भ्रष्टाचार के आरोप लगाए और विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी से मेघवाल के आदेशों को निरस्त करने की मांग की। इस पर स्पीकर डॉ. जोशी ने विधानसभा गृह समिति गठित कर मामले को उसे सौंप दिया। समिति ने 24 जनवरी को आवंटनों को निरस्त करने की सिफारिश की।  

 इन विधायकों के आवास निरस्त होने के बाद भी 17 दिन में खाली नहीं किए  

 नए जीत कर आए एमएलए बिहारी लाल विश्नोई, राकेश पारीक, संयम लोढ़ा, सुरेश टांक, विजयपाल, वाजिब अली, अमित चाचाण, गोविंद राम मेघवाल,महेंद्र विश्नोई, गुरमीत सिंह कुन्नर, सुरेश मोदी, रामपाल जाट, वासुदेव देवनानी, मदन प्रजापत, मुकेश भाकर, मनीषा पंवार, गोपाल लाल शर्मा, जोगिंदर अवाना, लक्ष्मण मीणा, रूपा राम, जोगाराम कुमावत, पदमाराम, गंगा देवी, दीपचंद खैरिया, सुमित गोदारा, समाराम गरासिया, पुष्पेंद्र सिंह, हरेंद्र निनामा, कैलाश चंद मेघवाल, रोहित बोहरा, सतीश पूनिया, खुशवीर सिंह, गोपीचंद मीणा, अविनाश, बलजीत यादव, गोपाल लाल मीणा, सुरेंद्र सिंह राठौड़, रमीला खडियां, जगदीश चंद्र, अमर सिंह, नारायण सिंह देवल, हीराराम, झब्बर सिंह सांखला, कालूराम, धर्मेंद्र मोची, भरोसी लाल जाटव, मदन दिलावर, गणेश घोघरा, प्रशांत बैरवा,मेवाराम जैन, कन्हैयालाल चौधरी, परसराम मोरदिया, प्रताप सिंह, बलवीर सिंह लूथरा, संजय शर्मा, रामप्रताप कासनियां, अमीन खां हैं। इन्हें आवास आवंटित कर दिए थे।

इनके अलावा रामलाल मीणा, छगन सिंह, रामनारायण मीणा, जाहिदा खान, वीरेंद्र सिंह, हमीर सिंह भायल, दिव्या मदेरणा, जोगेश्वर गर्ग, राजेंद्र राठौड़, महादेव सिंह खंडेला, कृष्णा पूनियां, अशोक डोगरा, इंद्रराज सिंह गुर्जर, चेतन सिंह चौधरी, गिरधारी लाल, सुभाष पूनियां, भंवरलाल शर्मा, दयाराम परमार, अमीन कागजी, सुरेश सिंह रावत, कैलाश चंद त्रिवेदी, दीपेंद्र सिंह शेखावत, मोहन राम चौधरी, बाबूलाल नागर, नरेंद्र बुड़ानियां, रुपाराम(मकराना), संदीप कुमार, हरीश चंद मीणा, जौहरी लाल मीणा,खिलाड़ी लाल बैरवा, किरण माहेश्वरी, कैलाश चंद मीना, लाखन सिंह, अनिता भदेल, जेपी चंदेलिया, पृथ्वीराज, इंद्रा मीना, वेद प्रकाश सोलंकी, पाना चंद मेघवाल, निर्मला सहरिया, रामनिवास गावड़िया है जिनको आवास आवंटित कर दिए थे।

Leave a Comment