मायावती के वोट बैंक पर कांग्रेस का दांव, चंद्रशेखर रावण से मिलने पर लगे कयास

लखनऊ। कांग्रेस बसपा सुप्रीमो मायावती को नुकसान पहुंचाने के लिए उभरते दलित युवा नेता चन्द्रशेखर रावण से प्रियंका गांधी के मिलने से उत्तर प्रदेश की राजनीति में नए कयासों का दौर शुरू हो गया है। यह माना जा रहा है कि चन्द्रशेखर कांग्रेस के साथ जाएंगे। इस घटना को मायावती के वोट बैंक सेंध माना जा रहा है। इससे चन्द्रशेखर की भीम सेना में जोश का नया संचार हुआ है।

मिली जानकारी के अनुसार, कांग्रेस की ओर से भीम सेना के संस्थापक चन्द्रशेखर रावण को कांग्रेस का साथ मिलने की सुगबुगाहट से उत्तर प्रदेश में अब कांग्रेस को दलित वोट मिलने में कामयाबी के रूप में देखा जा रहा है। क्योंकि चन्द्रशेखर दलित युवाओं के लिए एक आईकन के रूप में उभरे हैं। इससे पहले मायावती ने कांग्रेस को बड़ा झटका दे दिया था जिसमें उन्होंने कहा था कि पूरे देश में कांग्रेस के साथ मिलकर बसपा चुनाव नहीं लडेंगे। इसके बाद कांग्रेस की ओर से मायावती की तरफ एक दांव के रूप में देखा जा रहा है। वहीं प्रियंका गांधी वाड्रा ने अस्पताल में जाकर चन्द्रशेखर रावण से मिलने से राजनीतिक समीकरण बदल गए हैं। 

यूपी कांग्रेस के एक नेता ने बताया कि सिर्फ एकमात्र वह (मायावती) ही नहीं हैं जो दलित वोट पा सके। हम दलितों को अपने पक्ष में लाने के लिए बहुत प्रयास करेंगे जैसा कि हमने मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के हालिया विधानसभा चुनाव में किया। 

Leave a Comment