लोगों की पहल से खास बना यह पर्यटक स्थल

मसूरी की पहचान हिल स्टेशन के रूप में है, जहां विकेंड पर आम तौर पर दिल्ली और पंजाब के काफी लोग घूमने जाते हैं। यह फेवरेट होलिडे डेस्टिनेशन इन दिनों एक बहुत बड़ा संदेश दे रहा है। दरअसल यहां के लोगों ने एक वॉल ऑफ होप (उम्मीद की दीवार) बनाई है। खास बात ये है कि 12 फीट ऊंची और 1500 फीट लंबी इस दीवार को 15000 प्लास्टिक बोतलों से तैयार किया गया।

इन बोतलों को मसूरी और आस-पास के क्षेत्र से एकत्रित किया गया। यह वॉल ऑफ होप मसूरी के लोगों का यहां आने वाले पर्यटकों को इस हिल स्टेशन पर आने पर गंदगी नहीं फैलाने का संदेश है। म्यूजियम ऑफ गोवा के फाउंडर सुबोध केरकर इस दीवार की डिजाइन के पीछे दिमाग लगाने वाले मुख्य व्यक्ति हैं। यह दीवार हिलदारी प्रोजेक्ट का एक हिस्सा है। 

Leave a Comment