जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के नए नक़्शे को देख बौखलाया पाक, PoK के दो क्षेत्र भी शामिल

नई दिल्ली :भारत सरकार ने शनिवार को जम्मू कश्मीर और लद्दाख के केंद्रशासित प्रदेश बनने के बाद नया नक्शा जारी कर दिया है. भारत के दो नए केंद्र शासित प्रदेश 31 अक्टूबर 2019 को विधिवत अस्तित्व में आ गये थे. इसके बाद 02 नवंबर 2019 को दोनों नए केंद्र शासित प्रदेशों का मानचित्र जारी किया गया है.

इस नक्शे को भारत के सर्वे जनरल ने तैयार किया है. गृह मंत्रालय ने अपने बयान में कहा है कि केंद्रशासित प्रदेश लद्दाख में दो ज़िले होंगे- करगिल और लेह. इसके बाद बाक़ी के 26 ज़िले जम्मू कश्मीर में होंगे.नए नक्शे के अनुसार, पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) के मीरपुर और मुजफ्फराबाद जिलों को जम्मू और कश्मीर का हिस्सा बताया गया है. इन दोनों जिलों सहित जम्मू और कश्मीर में कुल 22 जिले होंगे.

भारत सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के सुपरविजन में जम्मू कश्मीर और लद्दाख की सीमा को निर्धारित किया गया है.यह नक्शा भारत के सर्वेक्षण जनरल द्वारा जम्मू और कश्मीर और लद्दाख के नए केंद्र शासित प्रदेशों को दर्शाते हुए तैयार किया गया है.

इस नक्शे के मुताबिक भारत में अब 28 राज्य और नौ केंद्र शासित प्रदेश हो गए हैं.जम्मू और कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश के मानचित्र में 22 जिले शामिल हैं, जिनमें मुजफ्फराबाद और मीरपुर के क्षेत्र शामिल हैं जो पिछले नक्शे में पीओके के अधीन थे. इसके अलावा, कुपवाड़ा, बांदीपोरा, बारामूला, पुंछ, बडगाम, शोपियां, कुलगाम, किश्तवाड़, उधमपुर, डोडा, सांबा, जम्मू, कठुआ, रामबन, राजौरी, अनंतनाग, पुलवामा, श्रीनगर, रियासी और गांदरबल जिले जम्मू और कश्मीर का हिस्सा होंगे5 अगस्त, 2019 को भारतीय संसद में संविधान के अनुच्छेद 370 और 35-ए को निष्प्रभावी बनाने का फ़ैसला बहुमत से लिया गया था, संसद की अनुशंसा के बाद राष्ट्रपति ने इन अनुच्छेदों को निरस्त करते हुए जम्मू कश्मीर पुनर्गठन क़ानून को मंजूरी दी. पाकिस्तान सरकार जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के अलग केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद भारत की ओर से नया नक्शा जारी किए जाने के बाद बौखला गया है . इस नक्शे में पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के मीरपुर और मुजफ्फाराबाद जिलों को नए केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर का हिस्सा दर्शाया गया है

Leave a Comment